Advertisements

किस्मत 🖐

​उस जगह से आइना शायद साफ़ नहीं दिखता ; कुछ यूँ के किस्से किरदारों के ख़त्म ही नहीं हुए । वो ताक़त में यकीन रखता होगा शायद ; ज़ज़्बात इंसानो के कभी पैसो के नहीं हुए । लिखता तो वो किस्मत पहले भी था ; इस कदर यकीन टूटने से पहले , हाथ किसी के... Continue Reading →

Khaab ©

​तुम बे-हद रहना ; हदों में तो कुछ यूँ ; मेरे दुश्मन भी रहते है | तुम बे-ख़ौफ़ रहना ; डर के साए में तो कुछ यूँ ; मेरे सपने भी रहते है | The Insider© Kuldeep choudhary Kuldeepjat341990.wordpress.com

Fir hua ↩

​मैं मेरे भगवान् का भी हुआ ; ऐ मौला मैं तेरा भी हुआ ; तुम सब मशरूफ किसी और में ; फिर इलाज उस रोग का ; मेरे ज़मीर से हुआ ! The Insider © Kuldeep choudhary ® Kuldeepjat341990.wordpress.com

Fuck !

देशभक्ति सिनेमा हॉल में ; राष्ट्र गान पर खड़े होकर ; जतानी पड़ती है । वाह ! ___________________ Written By Kuldeep choudhary The Insider©

Compromise #1

( तनीषा की शादी के दो महीने बाद ) Mumbai-pune express way ( check post ) 2:50 pm "सर ! डिग्गी खोलिये और अपना लाइसेंस बताइये..."लाल आँखों वाले उस पतले कांस्टेबल ने अपना हाथ गाडी के बोनट पर मार कर कहा । "कुछ नहीं बस शादी में मिले तोहफे है पीछे और कुछ नहीं ;... Continue Reading →

Create a free website or blog at WordPress.com.

Up ↑

%d bloggers like this: