Robbery !

april 07 ; 1958 न्यूयॉर्क शहर ! ज्यो ही अमेरिका का ख्याति प्राप्त अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स 07 अप्रैल की सुबह लोगो के घर पहुँचा , खबर पढ़ कर लोगो की आंखे फटे रह गयी ! किन्ही दो लोगों ने 06 अप्रैल की शाम बैंक ऑफ न्यूयॉर्क लूट लिया । बैंक ऑफ न्यूयॉर्क तब लूटा गया... Continue Reading →

Advertisements

ख़ातिर उसके !

​मैं चिखू और उसे सुनाई ना दूं ; मैं खुद को रोकु और उसे कभी बहने ना दूं ! मैं खुशबू बन जाऊं , उसे कभी घुटने ना दूं ; में पानी बन जाऊं , उसे सुलगने ना दूं ! मैं धुँआ बन जाऊं , मुझसे ज्यादा उसे कभी कुछ देखने ना दूं ; में... Continue Reading →

चलो वहां से चलते है ➡

जिस कहानी के किरदार आप नही बन सकते ; चलो वहां से चलते हैं ! जिस तारीख आप वहां नही पहुँच सकते ; चलो वहां से चलते है ! वक़्त खिलोना है ; कांच का ना समझो तो ; चलो वहां से चलते है ! कांच की बोतल हो , मगर मखमल इश्क़ ना हो... Continue Reading →

Live On Amazon 💐

From facebook to wordpress to Amazon , yeahhh my title named A GIRL AND A NIGHT AT HAUZ KHAS , All ABOUT YOU (HINDI & ENGLISH VERSION) published and available on Amazon. Thanks A TON for your support and love. Thank u amazon 💚💛💜💙  💐💐💐💐🎂🎂🎂🎂  click here to see books

ऐसी मोहब्बत !

कोई ऐसे भी निभाता है मोहब्बत ; तूने सुना नहीं ऐ दोस्त.. चले जाने के बाद मेरे , उसने संवरना छोड़ दिया । लोगो को क्या मालूम कहानी ; हर रात आधे होते उस चाँद की.. सुना मेने कही खातिर , ज़मीं के उसने पूरा होना छोड़ दिया । बाते सुनाई जाती हैं ,बंजर रेत... Continue Reading →

Yaad wo Fir Aa Gaya !

​हिसाब कितने दिनों का ; इन दिनों में कैसे लिखा गया ; पढ़ कर तारीखे , नशा कुछ शराब सा मेरी आँखों में आ गया ! दे दो कुछ जाम मेरे हाथों में ; उतर कर उसकी आँखों में , सुकून को सुकून सा कुछ आ गया ! मैं तारीफे करता रहा उसकी ; कर... Continue Reading →

Blog at WordPress.com.

Up ↑

%d bloggers like this: